ALL देश दुनिया राज्य तरकश धर्म-ज्योतिष स्वास्थ्य
एक साल में भारत का क़र्ज़ 13 लाख करोड़ रुपये बढ़ा
September 23, 2020 • Express Bureau • देश

 

पिछले कुछ वर्षों से भारत सरकार के कर्ज में तेज़ी से उछाल आया है। गत वर्ष की बात करें तो एक साल में सरकार पर 13 लाख करोड़ से ज्यादा की देनदारी बढ़ गयी है। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है।
एक खबर के मुताबिक पिछले शुक्रवार को जारी “रिपोर्ट ऑन पब्लिक डेब्ट मैनेजमेंट” के अनुसार जून 2020 में सरकार का कर्ज बढ़कर 101.3 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गया है, जो जून 2019 में 88.18 लाख करोड़ रुपये था। यानी जून 2019 से जून 2020 तक के बीच भारत सरकार की देनदारी 13.12 लाख करोड रुपए बढ़ गयी है। इतना ही नहीं यदि इस वर्ष मार्च के आंकड़ों पर नजर डालें तो उस वक़्त तक कर्ज 94.6 लाख करोड़ रुपये का था। इस वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में सरकार की लायबिलिटी 6.7 लाख करोड़ रुपये और बढ गयी, जिसके बाद जून 2020 के अंत में यह आंकड़ा बढ़कर 101.3 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गया है।
आपको बता दें कि विपक्षी दल कांग्रेस पहले से ही सरकार पर बेतहाशा कर्ज लेने को लेकर हमलावर रही है। इस नई रिपोर्ट के आने के बाद राजनीतिक संग्राम होना लाजमी है।
विदित हो कोरोना महामारी के कारण सरकार की आमदनी पर संकट और गहरा जाएगा। अपने खर्च पूरे करने के लिए केंद्र सहित राज्य सरकारों को भी बाजार के कर्ज पर निर्भर रहना होगा। ऐसे में इस वर्ष सरकारी देनदारियों में और बढ़ोतरी संभव है।